एनआईटी परिसर निर्माण का 24 को शुभारंभ करेंगे ’निशंक

0
123

देहरादूनः राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (एनआईटी) के सुमाड़ी, श्रीनगर गढ़वाल में प्रस्तावित अस्थायी परिसर का निर्माण कार्य 24 अगस्त को आंरभ होगा। भारत सरकार में शिक्षा मंत्री डाॅ. रमेश पोखरियाल ’निशंक’ इस कार्य का आनलाइन शुभारंभ करेंगे, जबकि उत्तराखंड के उच्च शिक्षा, सहकारिता, डेयरी विकास एवं प्रोटोकाॅल राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डाॅ. धनसिंह रावत कार्यस्थल पर इसका शुभारंभ करेंगे।

गौरतलब है कि यह भारत का 31वां संस्थान है और इसकी स्थापना 2010 में हुई थी। राष्ट्रीय स्तर के संस्थानों में इसका बड़ा महत्त्व है। कुछ समय पूर्व इस संस्थान के परिसर के यहां निर्माण को लेकर असमंजस की स्थिति बन गई थी। इस पर डाॅ. ’निशंक’ ने कहा था कि एनआईटी का परिसर सुमाड़ी में ही बनेगा। उन्होंने दिल्ली में अधिकारियों की बैठक में स्पष्ट किया था कि इसके लिए 309 में से 203 एकड़ जमीन उपयुक्त पायी गई है। इसलिए पहले वाले स्थान पर परिसर का निर्माण किया जाएगा। बैठक में सहमति बनी थी कि एनआईटी का आगामी शिक्षा सत्र इसी अस्थायी परिसर में प्रारंभ किया जाएगा। इसके बाद परिसर पर असमंजस और आशंकाओं के बादल छंट गए थे। अब इसके निर्माण का समय आ गया है। डाॅ. ’निशंक’ ने बताया कि उत्तराखंड के लिए इस परिसर का विशेष महत्त्व है। इसके बनने से यहां के युवाओं को वह शिक्षा घर में ही मिल जाएगी, जिसके लिए उन्हें बहुत धन और समय खर्च करके बाहर जाना पड़ रहा था। परिसर बनने से स्थानीय लोगों को रोजगार उपलब्ध हो पाएगा। यह उत्तराखंड के प्रमुख शिक्षा केंद्रों में एक होगा। इसके निर्माण में समय और गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाएगा।

LEAVE A REPLY