आरुषि निशंक को शिकागो में ‘टॉप 20 ग्लोबल वुमेन अवार्ड’ से नवाजा गया।

देहरादून। भारत की बेटी और अरुषि निशंक को सात समुद्र पार अमेरिका की धरती शिकागो में ‘टॉप 20 ग्लोबल वूमेन अवार्ड’ से नवाजा गया है।

यूएस कांग्रेसनल डैनी के डेविस और अमेरिकन मल्टी एथिकल गठबंधन के संयुक्त तत्वाधान में शिकागो में आयोजित अमेरिकी वूमेन डे सेलिब्रेशन के तहत भारत की युवा, गंगा एवं पर्यावरण एक्टिविस्ट अरुषि निशंक को टॉप 20 ग्लोबल वूमेन एक्सीलेंस अवार्ड 2020 प्रदान किया गया।

यूएस कांग्रेसनल ने आरुषि निशंक को गंगा संरक्षण  एवं संवर्धन, जलवायु परिवर्तन एजुकेटर और ग्रीन इंडिया में गर्ल चाइल्ड प्रमोशन हेतु कार्य करने के लिए विश्व की शीर्ष 20 महिलाओं की श्रेणी में नामित किया। यूएस कांग्रेसमैन  ने इस मिशन पर उल्लेखनीय कार्य करने के लिए दूरदर्शी युवा अरुषि को बधाई दी है। भारत की छात्र-छात्राओं के मध्य विशेषकर ग्रामीण क्षेत्रों में पर्यावरणीय पहल करने के लिए सराहना की और इसी धरती माता की संरक्षण के लिए महत्वपूर्ण बतलाया

समारोह में अवार्ड जूरी के उपाध्यक्ष जेरार्ड मूरर ने अरुषि का परिचय करवाया। अध्यक्ष अमेरिकन मल्टी एथनिक गठबंधन के अध्यक्ष मार्टिनो टंगकर ने सभा का स्वागत किया।अवार्ड जूरी के अध्यक्ष जेनोविया सोवेल ने कहा कि फिलिपींस, केन्या, इंडोनेशिया,ईरान, थाईलैंड,चीन, भारत, पोलैंड अमेरिका हिस्पैनिक और इथोपिया राष्टों से शीर्ष 20 महिलाओं का चयन किया गया, जिनमें अरुषि निशंक एक हैं।

सम्मान प्राप्त करते हुए अरुषि निशंक ने  बालिकाओं तथा महिलाओं को सशक्त बनाने और भारत में सबसे लोकप्रिय कार्यक्रम बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ शुरू करने के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी  मोदी को दिया और भारत में गंगा संरक्षण परियोजना, जल संरक्षण, वनीकरण तथा वृक्षारोपण कार्य के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयासों में स्वयं भी सम्मिलित होकर जनजागरण करने की अपील की।

अरुषि ने अपने शिक्षकों, पिता डॉ0 रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ (मंत्री मानव संसाधन विकास, भारत सरकार ) तथा अपने सहयोगियों का आभार व्यक्त किया जिसके कारण उन्हें इस क्षेत्र में कार्य करने की प्रेरणा और उत्साह प्राप्त होता रहा है।

महिला गाला अध्यक्ष मां संतोष कुमार ने अपने संबोधन में कहा कि यह लगातार आठवां वर्ष है जब कांग्रेसी डैनी के डेविस विश्व की शीर्ष 20 महिलाओं को उनके अग्रणीय कार्यों के लिए सम्मानित कर रहा है।

पुरस्कार समारोह की अध्यक्षता करते हुए कांग्रेस के बहू जातीय सलाहकार टास्क फोर्स के संस्थापक अध्यक्ष डॉ0 विजय प्रभाकर ने कहा कि महिला और बालिका सशक्तिकरण नवीन भारत के प्रधानमंत्री मोदी के जिस दृष्टिकोण का एक अंग है।                   निदेशक अमेरिकन मल्टी एथनिक गठबंधन  के कार्यकारी निदेशक डॉ0 क्लेरेंस बील्स ने धन्यवाद प्रस्ताव रखा। कार्यक्रम में कई संगठनों, ओएफबी बीजेपीयू यू एस, अमेरिकन एसोसिएशन ऑफ फिजिशियंस ऑफ इंडियन ओरिजन, अमेरिकन एसोसिएशन ऑफ रेडियोलॉजिस्ट आफ इंडियन ओरिजन, यूएसए अफ्रीका चेंबर ऑफ कॉमर्स, उत्तराखंड समाज ग्रेटर शिकागो, इंडियन अमेरिकन कल्चर एसोसिएशन, भारतीय अमेरिकी व्यापार गठबंधन समेत अनेक संगठनों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया।

ज्ञात हो कि अरुषि निशंक भारत की एक प्रसिद्ध कथक नृत्यांगना होने के साथ-साथ समाजसेवा एवं गंगा संरक्षण और पर्यावरण के क्षेत्र में लगातार कार्य कर रही हैं। वे नमामि गंगे परियोजना की प्रमोटर हैं तो वहीं दूसरी ओर स्पर्श गंगा अभियान की राष्ट्रीय संयोजिका भी हैं। अरुषि को इस क्षेत्र में कार्य करने के लिए पूर्व में भी कई संगठनों तथा संस्थाओं द्वारा देश और देश में सम्मान प्राप्त हो चुके हैं।

LEAVE A REPLY