नीट को लेकर परीक्षार्थियों में उत्साह।

0
51

देहरादूनः जेईई मैन्स की परीक्षाएं निर्बाध रूप से संपन्न होने के बाद नीट परीक्षा की तैयारी में लगे परीक्षार्थियों में उत्साह जग गया है। अधिकांश छात्रों का कहना है कि उन्हें बेसब्री से इस परीक्षा का इंतजार है। वे कई दिनों से तैयारी में लगे हुए थे।
कोविड-19 महामारी के कारण जेईई और नीट की परीक्षाएं पीछे चली गई थीं। केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने सितंबर में इन्हें हर हाल में आयोजित कराने का निर्णय लिया था, ताकि छात्रों का समय और परिश्रम बेकार न जाए। छात्रों के स्वास्थ्य के सुरक्षा की व्यवस्था करते हुए एनटीए ने जेईई की मैन्स की परीक्षाएं करा दीं और नीट तथा जेईई एडवांस्ड की परीक्षाएं अब होनी है। नीट परीक्षा की तिथि 13 सितंबर निर्धारित है। इस परीक्षा की तैयारी में लगे छात्रों का कहना है कि भले ही कोविड-19 के कारण यह परीक्षा पीछे चली गई, लेकिन मंत्रालय का धन्यवाद कि उसने सितंबर में इसे करवाने का निर्णय लिया।
देहरादून के मियांवाला की दीपिका जोशी का कहना है कि उसे इस परीक्षा का बेसब्री से इंतजार है। दिल्ली प्रिया रावल कहती हैं कि वे कई महीने से इस परीक्षा की तैयारी में लगी हैं, उन्हें देखने की प्रबल इच्छा है कि इसका पेपर कैसा आता है। यहीं के मोहम्मद समी कादरी कहते हैं कि केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने सितंबर में इस परीक्षा को कराने का निर्णय लेकर छात्रों की इच्छा पूरी की है। नीतीश शर्मा और मयंक कर्दम कहते हैं कि परीक्षा पीछे जाती तो हमारा बहुत नुकसान हो जाता। सभी बच्चे समझदार हैं। सभी को पता है कि कोविड-19 से कैसे बचाव करना है। फिर एनटीए ने भी अच्छी व्यवस्था कर रखी है।
उधर, इस संबंध में केंद्रीय शिक्षा मंत्री डाॅ. रमेश पोखरियाल निशंक ने जेईई मैन्स की परीक्षा निर्बाध रूप से संपन्न कराने के लिए राज्यों के मुख्यमंत्रियों, प्रशासन औन एनटीए का धन्यवाद ज्ञापित कर विश्वास व्यक्त किया है कि नीट और जेईई एडवांस्ड की परीक्षाएं भी इसी प्रकार संपन्न होंगी। उन्होंने बताया कि बच्चों में परीक्षाओं को लेकर उत्साह है। एनटीए ने कोविड-19 से बचाव तथा परीक्षा के लिए बेहतरीन व्यवस्थाएं की हैं। छात्र और अभिभावक नियमों का भली-भांति पालन कर रहे हैं। उन्होंने नीट के परीक्षार्थियों को अग्रिम शुभकामनाएं भी दीं।

LEAVE A REPLY