धन सिंह के दरबार में जनसमस्याओं का अंबार।

0
260

देहरादून। भाजपा शासित प्रदेशों में भाजपा की सरकारों के खिलाफ आये जनादेश से चिंतित मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने 2022 की चुनौतियों से निपटने के लिए अभी से जनता से संवाद बढाने के नए नए पैतरे आजमाने शुरू कर दिए हैं,मुख्यमंत्री एक ओर जंहा विधायकों को अपने क्षेत्रों में सरकार द्वारा किये गए कार्यों के रिपोर्ट कार्ड लेकर जनसम्पर्क बढाने के निर्देश दे चुके हैं वही मुख्यमंत्री 70 की 70 विधानसभा क्षेत्रों में स्वयं जानता से रूबरू होने का प्लान कर चुके हैं। मन्त्रियों को विधान सभा मे जनता की समस्याओं को सुनने का फरमान जारी कर खुद भी त्रिवेंद्र विधानसभा में दरबार सजा चुके हैं,हालांकि मंत्रियों पर CM के फरमान का असर ज्यादा नही दिखाई दिया,एक आध को छोड़ बाकी सभी मंत्री अपने निर्धारित दिवस पर नदारद रहे।इसी क्रम में त्रिवेंद्र सरकार में CM के सबसे खास सिपहसालार उच्च शिक्षा एवं सहकारिता राज्य मंत्री(स्वतंत्र प्रभार) डॉ०धन सिंह रावत ने भाजपा मुख्यालय में जनता दरबार में जनसमस्याएं सुनी,प्रदेश भर से आये दूरदराज क्षेत्रो के कार्यकर्ता तथा जनमानस ने धन सिंह के सामने समस्याओं का अंबार लगा डाला ,जिससे कुछ देर धन सिंह भी असहज दिखे।धन सिंह ने वंही से अधिकारियों को समस्याओं के समाधान के निर्देश भी दिए तो कुछ समस्याओं पर कार्यवाही को लेकर आश्वस्त किया।पूर्व में भी सरकार के मंत्री भाजपा मुख्यालय में जनता दरबार लगा चुके हैं,लेकिन प्रकाश पांडे और उत्तरा पंत बहुगुणा प्रकरण ने सरकार की छवि को नेपथ्य में डाल दिया था,बीच के कुछ समय इसे स्थगित कर फिर से जनता दरबार की शुरुआत की गई,अब देखते हैं कितनी कारगर साबित होती है ये मुहिम।

LEAVE A REPLY